Monday, October 7, 2019

RPSC: फुल कमीशन की बैठक में होगा परीक्षा पर फैसला, ये होगा भर्ती पर असर

RPSC: प्रदेश भर के अन्य पिछड़ा वर्ग और अनुसूचित जनजाति अभ्यर्थियों ने राजस्थान लोक सेवा आयोग से सहायक अभियंता (सिविल/ विद्युत/ यांत्रिकी/ कृषि) संयुक्त प्रतियोगी (मुख्य) परीक्षा-2018 की तिथि बढ़ाने की मांग की है। उधर हाईकोर्ट के आदेश पर आयोग फुल कमीशन की बैठक बुलाएगा। इसके आधार पर परीक्षा को लेकर फैसला होगा।

ये भी पढ़ेः CBSE Board Exam: नियमों में हुआ बड़ा बदलाव, 33% मार्क्स लाने पर हो जाएंगे पास

ये भी पढ़ेः General Knowledge Questions Paper: प्रतियोगी परीक्षाओं में पूछे जाते हैं ये सवाल

यह है मामला
अभ्यर्थियों के अनुसार आयोग ने बीते वर्ष 16 से 18 दिसंबर तक सहायक अभियंता भर्ती -2018 की प्रारंभिक परीक्षा कराई थी। इसका परिणाम 18 जुलाई को जारी किया गया। इसके तहत परिणाम में अनुसूचित जनजाति (एसटी) और ओबीसी आरक्षित वर्गों के कट ऑफ माक्र्स सामान्य वर्ग से ऊपर चले गए। इसके खिलाफ राजस्थान उच्च न्यायालय में याचिका लगाई गई थी। हाईकोर्ट ने अंतरिम आदेश देकर आरक्षित वर्ग के उन सभी अभ्यर्थियों जिनके कट ऑफ माक्र्स सामान्य से अधिक हैं, उन्हें प्रारंभिक परीक्षा में उत्तीर्ण कर मुख्य परीक्षा में शामिल करने को कहा है।

ये भी पढ़ेः बिल गेट्स और मार्क जुकरबर्ग की ये क्वालिटीज आप में भी है तो पक्का मिलेगी कामयाबी

ये भी पढ़ेः वर्कआउट के बाद लें घर में बने इंडियन एनर्जी ड्रिंक्स, ताकत के साथ इम्युनिटी भी बढ़ेगी

फुल कमीशन करेगा फैसला
नियमानुसार हाईकोर्ट के आदेश, परीक्षा तिथि आगे बढ़ाने के लिए फुल कमीशन अधिकृत है। सहायक अभियंता भर्ती -2018 की मुख्य परीक्षा मामले में मिले हाईकोर्ट आदेश पर फुल कमीशन चर्चा करेगा। इसके बाद ही परीक्षा यथावत रखने अथवा आगे बढ़ाने पर फैसला होगा। मालूम हो कि आयोग ने 9 से 11 अक्टूबर तक सहायक अभियंता (सिविल/ विद्युत/ यांत्रिकी/ कृषि) संयुक्त प्रतियोगी (मुख्य) परीक्षा-2018 कराना तय किया है।



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/31VoG1A
Previous Post
Next Post

post written by:

0 Comments: